Breaking News
Home / देश / जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले का अलर्ट, इस दिन आतंकी कर सकते हैं बड़ा धमाका
newsdunia24

जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले का अलर्ट, इस दिन आतंकी कर सकते हैं बड़ा धमाका

  • जम्मू और कश्मीर में आतंकी हमले का अलर्ट
  • खुफिया एजेंसियों ने दी सूचना
  • चुनावों के दौरान जैश कर सकता है हमला

नई दिल्‍ली : खुफिया एजेंसियों ने जम्‍मू और कश्‍मीर में आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया है। पिछले कुछ महीनों से जम्मू कश्मीर लगातार आतंकी हमलों के साए में है और आने वाले हफ्ते में फिर एक बार आतंकी हमले की चेतावनी जारी की गई है।

देश की खुफिया एजेंसी ने एक बार फिर प्रदेश में आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया है। खुफिया एजेंसियों की तरफ से जारी अलर्ट में कहा गया है कि पाकिस्‍तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद जम्‍मू-कश्‍मीर में 5 से 9 अप्रैल के बीच एक बड़े हमले की तैयारी में जुटा है। बताया जा रहा है कि खुफिया इनपुट मिले हैं कि लोकसभा चुनावों को प्रभावित करने के लिए पाकिस्‍तान ( Pakistan ) 5 से 9 अप्रैल के बीच बड़े आतंकी हमले के लिए जैश की मदद कर रहा है।

खुफिया सूचना मिलने के साथ ही सेना और सुरक्षाबलों को अलर्ट रहने को कहा गया है और बड़े स्तर पर छानबीन अभियान छेड़ दिया गया है। बता दें कि 11 अप्रैल से लोकसभा चुनाव ( lok sabha election ) होने हैं और 23 मई को मतगणना होगी, इसी दौरान देश में शांति की फिजां बिगाड़ने की कोशिश में लगा पाकिस्तान जैश की मदद से बड़े हमलों को अंजाम दे सकता है।

पिछले कुछ महीनों में जम्मू कश्मीर में पाक की मदद से आतंकी हमलों में काफी तेजी आई है। पुलवामा हमले औऱ उसके बाद भारत की तरफ से की गई जवाबी का$रवाई के बाद ये मसला दुनिया के सामने भी जगजाहिर हो चुका है। लेकिन इस बार पहले से मिली खुफिया खबरों ने सीमा और प्रदेश में तैनात सुरक्षा बलों को चौकन्ना कर दिया है और इसी के तहत वृहद तौर पर छानबीन अभियान आरंभ हो चुका है।

खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई भी इस आतंकी हमले की प्लानिंग में शामिल है। आईएसआई ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद और लश्‍कर-ए-तैयबा के साथ मिलकर आतंकी संगठनों के तीन दल बनाए हैं जो जम्मू और कश्मीर में आतंकी हमले करेंगे। खुफिया टीम ने आशंका जताई है कि आतंकियों ने दलों में बंटकर चुनाव के दौरान पोलिंग बूथ और प्रत्याशियों को निशाना बनाने की प्लानिंग की है।

कहा गया है कि आईएसआई ने कश्‍मीर में आतंकी हमले के लिए गोला बारूद का इस्तेमाल सीखने के लिए अपने आतंकियों को अफगानिस्‍तान भेजकर प्रशिक्षित करने की प्लानिंग कर रखी है।

कश्मीर में अशांत माहौल को देखते हुए गृह मंत्रालय और चुनाव आयोग ने मिलकर राज्‍य में अतिरिक्‍त सुरक्षाबल भेजने का निर्णय लिया है। सुरक्षाबलों से जुड़े एक वरिष्‍ठ अधिकारी का कहना है कि राज्‍य में चुनावों के दौरान सभी उम्‍मीदवारों को सुरक्षा मुहैया कराना और पोलिंग बूथ पर सुरक्षा व्‍यवस्‍था चाकचौबंद रखना बड़ी जिम्मेदारी है और सुरक्षा बल इसे पूरा करेंगे। प्रशासन का पूरा प्रयास रहेगा कि कश्‍मीर के मतदाता बिना डरे और संकोच किए मतदान कर पाएं ताकि लोकतंत्र का ये उत्सव बिना किसी खलल के पूरा हो जाए।

About Yogesh Singh

Check Also

विवाद / अमेजन हिंदू देवताओं की फोटो लगे जूते और टॉयलेट सीट कवर बेच रहा, सोशल मीडिया पर लोगों ने गुस्सा जताया

ट्विटर पर #बायकॉटअमेजन का ट्रेंड चला, कई लोगों ने ऐप हटाया लोग एक-दूसरे से अमेजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *