Breaking News
Home / अपराध / मेरठ बवाल Update: इस अफवाह के बाद जल उठा शहर, दहशत से एक की मौत!
img

मेरठ बवाल Update: इस अफवाह के बाद जल उठा शहर, दहशत से एक की मौत!

– अतिक्रमण हटाने के दौरान हुआ मेरठ में बवाल

– मछेरान और भूसा मंडी में आरएएफ, पीएसी और पुलिस तैनात

– मछेरान पहुंचे पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी को लोगों के गुस्‍से का सामना करना पड़ा

मेरठ। जनपद में बुधवार को जमकर बवाल हुआ। इसके बाद वहां पर इंटरनेट सेवाएं भी रोक दी गई हैं। वहीं, बताया जा रहा है कि बुधवार देर रात को दहशत के कारण 40 साल के एक शख्‍स की मौत हो गई। वह कई दिन से बीमार था। उधर, गुरुवार को सुबह भी मछेरान और भूसा मंडी में रैपिड एक्‍शन फोर्स (आरएएफ), पीएसी और पुलिस तैनात रही। इस बीच मछेरान में आक्रोशित लोग और पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी आमने-सामने आ गए। लोगों ने अधिकारियों से मुआवजे और न्‍याय की मांग की।

यह भी पढ़ें: बड़ी खबर: लोकसभा चुनाव से पहले इस जिले में हुआ जमकर बवाल, इंटरनेट सेवा बंद

अतिक्रमण हटाने के दौरान हुआ बवाल

बुधवार शाम को महताब सिनेमा के पास अतिक्रमण हटाने का विरोध किया गया था। इस बीच कुछ लोगों ने भूसा मंडी में झुग्गियों में आग लगा दी थी। इसमें करीब 100 झुग्गियों के जलने की खबर है। इसके बाद बवाल बढ़ गया। इस दौरान असामाजिक तत्‍वों ने कई बसों में तोड़फोड़ की और पुलिस पर पथराव किया था। बताया जा रहा है कि अतिक्रमण के दौरान अफवाह उड़ी कि मछेरान को साफ करने आए हैं। इसके बाद बवाल शुरू हुआ। इस बीच एक धार्मिक स्‍थल में आग और शहर में सांप्रदायिक हिंसा फैलने की अफवाह ने बवाल को बढ़ाने का काम किया। इसको देखते हुए रात को शासन की ओर से इंटरनेट पर रोक लगाने का आदेश देना पड़ा।

लोगों ने की मुआवजे और न्‍याय की मांग

बताया जा रहा है क‍ि इन अफवाहों व बवाल के कारण एक शख्‍स की दहशत से मौत हो गई। मछेरान निवासी रईस कई दिन से बीमार था। 40 साल के रईस ने बुधवार देर रात को दम तोड़ दिया। वहीं, गुरुवार सुबह मछेरान पहुंचे पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी को लोगों के गुस्‍से का सामना करना पड़ा। उनसे बवाल से प्रभावित लोगों ने मुआवजे और न्‍याय की मांग की। वहां पर स्‍थानीय पार्षद और महागीर अमन सेवा समिति के सदस्‍य भी मौजूद थे। उन्‍होंने भीड़ को समझाया। जब अधिकारियों ने लोगों को उचित मुआवजे और सही कार्रवाई का आश्‍वासन दिया तो लोग वापस लौटे।

डीएम ने कहा- दोषियों को बख्‍शा नहीं जाएगा

इस मामले में डीएम अनिल ढींगरा का कहना है क‍ि टीमें बनाई गई हैं। मामले की जांच चल रही है। दोषियों को बख्‍शा नहीं जाएगा। वहीं, एसएसपी नितिन तिवारी का कहना है क‍ि दोषियों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी। एसपी सिटी डॉ. अखिलेश प्रताप सिंह ने बताया कि शहर को तीन जोन और आठ सेक्‍टर में बांटा गया है। दो कंपनी आरएएफ और पीएसी के साथ ही पुलिस को तैनात किया गया है।

About Yogesh Singh

Check Also

img

सीबीआई ने रेलवे के दो अधिकारियों को रंगे हाथ रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

ठेकेदार से कैश लेते हुए सीबीआई ने पकड़ा था रंगे हाथ डीआरएम ऑफिस में तैनात …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *