Breaking News
Home / प्रशासन न्यूज़ / चुनाव के बहाने राजस्व वसूली कदापि प्रभावित न हो: डीएम

चुनाव के बहाने राजस्व वसूली कदापि प्रभावित न हो: डीएम

स्थानीय निकायों में कम वसूली पर दी चेतावनी, कहा तेजी लाकर करें लक्ष्य पूरा
कन्नौज। राजस्व कार्यों में तेजी लाते हुये लक्ष्य की पूर्ति शत-प्रतिशत सुनिश्चित की जाये। लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 को दृष्टिगत रखते हुये वसूली में लापरवाही किसी भी दशा में न की जाये।
उक्त निर्देश आज जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने कलेक्ट्रेट सभागार में राजस्व कार्यों की मासिक समीक्षा की बैठक की अध्यक्षता करते हुये संबंधित अधिकारियों को दिये। उन्होनें राजस्व से संबंधित आबकारी, परिवहन, स्टाम्प, विद्युत, नगर निकाय आदि संबंधित विभागों की वसूली की प्रगति का जायजा लेते हुये निर्देश दिये कि विद्युत देयकों के अन्तर्गत जारी की गई आरसी की वसूली नियमानुसार सुनिश्चित की जाये तथा विद्युत चोरी रोकी जाये। उन्होनें नगर निकाय की वसूली में लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति कम पाये जाने पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुये कड़े निर्देश दिये कि वसूली में हर संभव तेजी लायी जाये।
जिलाधिकारी ने वन विभाग के अधिकारी को बैठक में अनुपस्थित पाये जाने पर स्पष्टीकरण मांगने के भी निर्देश दिये। उन्होनें सभी तहसीलदारों को निर्देशित करते हुये कहा कि तहसील स्तर पर अमीन के माध्यम से वसूली सुनिश्चित की जाये तथा समय-समय पर प्रगति के संबंध में मानीटरिंग भी सुनिश्चित की जाये। वसूली को निर्वाचन में प्रभावित किसी भी दशा में न किया जाये। उन्होनें मण्डी सचिवों को निर्देशित करते हुये कहा कि प्रागामी लक्ष्य के सापेक्ष वार्षिक लक्ष्य भी पूरा किया जाये।
श्री कुमार ने जिला आबकारी अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि नवीनीकरण शुल्क जमा करने के उपरान्त भी वसूली कम है। अतः नियमानुसार वसूली में तेजी लायी जाये तथा लक्ष्य की पूर्ति शत-प्रतिशत सुनिश्चित की जाये। उन्होनें सम्पत्ति रजिस्टर के संबंध में भी जानकारी करते हुये एसओसी चकबंदी को निर्देशित करते हुये कहा कि जिन गांवों में चकबंदी का कार्य कराया जा रहा है। ऐसे सभी गांवों की चकबंदी के संबंध में की जाने वाली कार्यवाही प्रस्तुत की जाये तथा सम्पत्ति रजिस्टर तत्काल बनाया जाये।
उन्होनें बडे़ बकायेदारों के संबंध में नोटिस जारी करने के निर्देश दिये तथा वसूली की धनराशि संबंधित बकायेदारों द्वारा जमा न करने की दशा में उसके खिलाफ कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये। उन्होनें यह भी निर्देश दिये कि बडे़ बकायेदारों की सूची तैयार कर वसूली हर संभव की जाये तथा नियमित रूप से बैठकों के माध्यम से समीक्षा भी सुनिश्चित की जाये।
बैठक में उपजिलाधिकारी सदर, अति0 मजिस्ट्रेट, सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी, जिला आबकारी अधिकारी, अधिशासी अभियंता विद्युत, समस्त अधिशासी अधिकारी सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे ।

About Yogesh Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *