Breaking News
Home / देश / महबूबा मुफ्ती ने अब कहा- अगर कश्मीर खतरे में है तो छोड़ क्यों नहीं देते PM मोदी

महबूबा मुफ्ती ने अब कहा- अगर कश्मीर खतरे में है तो छोड़ क्यों नहीं देते PM मोदी

  • कश्मीर पर नहीं थम रहे नेताओं के विवादित बयान
  • महबूबा मुफ्ती ने पीएम मोदी से कही कश्मीर छोड़ने की बात
  • पहले भी कई बार दे चुकी हैं जम्मू कश्मीर को बांटने की बात

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव ( Lok Sabha Election 2019 ) के तीन चरण खत्म हो चुके हैं लेकिन भारत के अभिन्न अंग कश्मीर ( Kashmir ) को लेकर भड़काऊ बयान देने का सिलसिला जारी है। राज्य की पूर्व सीएम और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर जम्मू-कश्मीर को भारत से अगल करने की बात कही है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) से कहा कि कश्मीर को छोड़ क्यों नहीं देते।

क्यों खतरा मोल रहे मोदी: महबूबा मुफ्ती

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी ( PDP ) नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित करते हुए कहा कि अगर पीएम को लगता है कि कश्मीर खतरे में है तो फिर वो इस खतरे को छोड़ दें। अगर उनको लगता है कि अनुच्छेद 370 ( Article 370 ) के बिनाह पर हमारे रिश्ते की बुनियाद है… कश्मीर को छोड़ दें। अब वो कैसे छोड़ना चाहते हैं… क्यों खतरा मोल लेना चाहते हैं इतने सालों ?

‘कांग्रेस और एनसी कमजोर कर रहे अनुच्छेद 370’

महबूबा मुफ्ती ने कांग्रेस और नेशनल कांफ्रेंस (एनसी) पर अनुच्छेद 370 को कमजोर करने का आरोप लगाया है। यह अनुच्छेद जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा प्रदान करता है। महबूबा ने कहा कि कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने 2008 में अमरनाथ श्राइन बोर्ड को हजारों कनाल भूमि आवंटित कर अनुच्छेद 370 को कमजोर किया था और एनसी ने 1975 में वजीर-ए-आजम और सदर-ए-रियासत का खिताब खत्म कर दिया था। यह उनकी पार्टी थी, जिसने भाजपा के साथ राज्य में गठबंधन सरकार के दौरान अनुच्छेद 370 और 35ए को बचाया था।

शाह ने कहा- सत्ता में आए तो अनुच्छेद 370 हटा देंगे

शनिवार को झारखंड के पलामू की एक जनसभा में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि अगर भगवा पार्टी फिर से सत्ता में आती है तो वह जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटा देगी। शाह ने कहा कि कांग्रेस नीत संप्रग सरकार के दौरान पाकिस्तान के आतंकवादी समूह भारत को लगातार निशाना बनाते थे। उन्होंने कहा कि अगर आप नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाएंगे तो हम अनुच्छेद 370 हटा देंगे।

अनंतनाग से चुनाव लड़ रही हैं महबूबा

बता दें कि महबूबा अनंतनाग संसदीय क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं, जहां तीन चरणों में होने वाले मतदान का पहला चरण 23 अप्रैल को हुआ था। अनंतनाग में दूसरे चरण का मतदान 29 अप्रैल को और तीसरे व अंतिम चरण का मतदान छह मई को होना है। महबूबा के सामने मुख्य चुनौती कांग्रेस के गुलाम अहमद मीर और एनसी उम्मीदवार सेवानिवृत्त न्यायाधीश हसनैन मसूदी से है।

About Yogesh Singh

Check Also

विवाद / अमेजन हिंदू देवताओं की फोटो लगे जूते और टॉयलेट सीट कवर बेच रहा, सोशल मीडिया पर लोगों ने गुस्सा जताया

ट्विटर पर #बायकॉटअमेजन का ट्रेंड चला, कई लोगों ने ऐप हटाया लोग एक-दूसरे से अमेजन के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *